दिल्ली हवाईअड्डे पर वेतन मुद्दे को लेकर बढ़ी परेशानी, स्पाइसजेट के कर्मचारियों ने किया हड़ताल

दिल्ली हवाईअड्डे पर वेतन मुद्दे को लेकर स्पाइसजेट के कर्मचारियों का एक वर्ग हड़ताल पर आ गए है।स्पाइसजेट के चेयरपर्सन एवं प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने पिछले महीने कहा था कि कर्मचारियों को उनके पूरे वेतन का भुगतान समय पर किया जहा रहा है और वेतन से जुड़े सभी मुद्दों को सुलझा लिया गया है।

नयी दिल्ली। दिल्ली हवाईअड्डे पर स्पाइसजेट के कर्मचारियों का एक वर्ग सोमवार को वेतन कटौती तथा उसके अनियमित वितरण को लेकर हड़ताल पर चला गया। सूत्रों ने यह जानकारी दी।
स्पाइसजेट के चेयरपर्सन एवं प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने पिछले महीने कहा था कि कर्मचारियों को उनके पूरे वेतन का भुगतान समय पर किया जहा रहा है और वेतन से जुड़े सभी मुद्दों को सुलझा लिया गया है।
इससे पहले तीन सितंबर को एयरलाइन के सुरक्षा विभाग में कार्यरत कर्मचारी भी इसी मुद्दे को लेकर हड़ताल पर चले गए थे। हालांकि, प्रबंधन के साथ बातचीत के बाद वे उसी दिन काम पर लौट आए थे।

इसे भी पढ़ें: शेयर बाजारों में रौनक लौटी! सेंसेक्स की 832 अंक की छलांग, फिर 60,000 अंक के पार

सूत्रों ने बताया कि सोमवार को एयरलाइन के विमानन रखरखाव विभाग में काम करने वाली दिल्ली हवाईअड्डे के टर्मिनल-3 के बाहर हड़ताल पर चले गए।
कर्मचारियों ने अपने हाथों में तख्तियां ली हुई थीं जिनपर ‘‘हमारा बकाया वेतन दो’, ‘कोई वेतन नहीं कोई काम नहीं’ जैसे नारे लिखे हुए थे।
इस बारे में पूछे जाने पर स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने कहा कि दिल्ली हवाईअड्डे पर कुछ कर्मचारियों के साथ यह मुद्दा था। इसे सुलझा लिया गया है और कर्मचारी काम पर लौट आए हैं।
प्रवक्ता ने कहा कि स्पाइसजेट की उड़ानों का परिचालन सामान्य तरीके से हो रहे है।
वित्त वर्ष 2019-20 में स्पाइसजेट को 934.8 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। 2020-21 में एयरलाइन को 998.3 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Source link

Leave a Comment