यूपी चुनाव 2022: अखिलेश यादव से मिले जयंत चौधरी, सीटों के बंटवारे की नहीं हुई घोषणा

अमर उजाला ब्यूरो, लखनऊ
Published by: ishwar ashish
Updated Tue, 23 Nov 2021 05:17 PM IST

सार

रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी सपा-रालोद के बीच सीटों पर बंटवारे की चर्चा करने के लिए अखिलेश यादव के लखनऊ स्थित आवास पर पहुंच चुके हैं। माना जा रहा है कि शाम तक दोनों ही दलों की सीटों की घोषणा हो सकती है।

जयंत चौधरी व अखिलेश यादव।
– फोटो : amar ujala

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में गठबंधन के लिए रालोद और सपा और आगे बढ़ती नजर आ रही हैं। रालोद प्रमुख जयंत चौधरी ने मंगलवार को लखनऊ पहुंचकर अखिलेश यादव से मुलाकात की। मुलाकात से पहले अंदेशा लगाया जा रहा था कि आज ही सीट बंटवारे को लेकर दोनों पार्टी प्रमुख कोई घोषणा करेंगे लेकिन ऐसा हुआ नहीं। माना जा रहा है कि अब बुधावर को औपचारिक घोषणा की जाएगी।  

मुलाकात के बाद अखिलेश यादव ने जयंत चौधरी के साथ फोटो ट्वीट की और लिखा ‘बदलाव की ओर’। अखिलेश के बाद जयंत चौधरी ने भी एक तस्वीर शेयर की। वहीं ऐसी बातें सामने आ रही हैं कि जयंत ने सपा से 50 सीटों की मांग की है। वहीं सपा नेतृत्व रालोद को 30 से 32 तक सीटें देने की पेशकश की है।

रालोद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जहां अधिक से अधिक सीटें मांग रहा है तो वहीं मध्य और पूर्वांचल की कुछ सीटों पर भी उसका दावा है। उधर सपा प्रमुख अखिलेश यादव बहुत सी सीटों पर असहमत हैं। इसी के चलते सीटों के बंटवारे में देरी हो रही है। 

सपा और रालोद के बीच मथुरा, बुलंदशहर और मुजफ्फरनगर आदि की कई विधानसभा सीटों पर मंथन चल रहा है। दोनों ही दलों के इन सीटों पर अपने-अपने दावे हैं। इन्हीं सब पर बात करने के लिए और गठबंधन को अंतिम रूप देने के लिए जयंत चौधरी लखनऊ पहुंचे।

विस्तार

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में गठबंधन के लिए रालोद और सपा और आगे बढ़ती नजर आ रही हैं। रालोद प्रमुख जयंत चौधरी ने मंगलवार को लखनऊ पहुंचकर अखिलेश यादव से मुलाकात की। मुलाकात से पहले अंदेशा लगाया जा रहा था कि आज ही सीट बंटवारे को लेकर दोनों पार्टी प्रमुख कोई घोषणा करेंगे लेकिन ऐसा हुआ नहीं। माना जा रहा है कि अब बुधावर को औपचारिक घोषणा की जाएगी।  

मुलाकात के बाद अखिलेश यादव ने जयंत चौधरी के साथ फोटो ट्वीट की और लिखा ‘बदलाव की ओर’। अखिलेश के बाद जयंत चौधरी ने भी एक तस्वीर शेयर की। वहीं ऐसी बातें सामने आ रही हैं कि जयंत ने सपा से 50 सीटों की मांग की है। वहीं सपा नेतृत्व रालोद को 30 से 32 तक सीटें देने की पेशकश की है।

रालोद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जहां अधिक से अधिक सीटें मांग रहा है तो वहीं मध्य और पूर्वांचल की कुछ सीटों पर भी उसका दावा है। उधर सपा प्रमुख अखिलेश यादव बहुत सी सीटों पर असहमत हैं। इसी के चलते सीटों के बंटवारे में देरी हो रही है। 

सपा और रालोद के बीच मथुरा, बुलंदशहर और मुजफ्फरनगर आदि की कई विधानसभा सीटों पर मंथन चल रहा है। दोनों ही दलों के इन सीटों पर अपने-अपने दावे हैं। इन्हीं सब पर बात करने के लिए और गठबंधन को अंतिम रूप देने के लिए जयंत चौधरी लखनऊ पहुंचे।

Source link

Leave a Comment