Falguni Nayar: 50 साल की उम्र में बिना किसी अनुभव के साथ शुरू किया Nykaa, आज बनीं दुनिया की सबसे अमीर महिला

एक गुजराती परिवार में जन्मी और पली-बढ़ी फाल्गुनी नायर का पालन-पोषण मुंबई में एक कारोबारी माहौल के बीच हुआ। उनके पिता एक छोटी बियरिंग कंपनी चलाते थे जहाँ उनकी माँ मदद करती थीं। निवेश, शेयर बाजार, व्यापार जैसे शब्द फाल्गुनी ने अपने परिवार से सबसे ज्यादा सुने थे और उनसे अच्छी खासी परिचित थी।

बुधवार को लिस्टिंग के बाद ब्यूटी प्रोडक्ट्स के कारोबार Nykaa के शेयर की कीमत लगभग दोगुनी हो गई। इसी के साथ Nykaa की सह-संस्थापक फाल्गुनी नायर और उनके परिवार की हिस्सेदारी अब 6.5 बिलियन डॉलर से अधिक है, जिससे वह भारत की सबसे अमीर महिला उद्यमियों में से एक बन गई हैं।ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक,  58 वर्षीय फाल्गुनी नायर, ओपी जिंदल ग्रुप की चेयरपर्सन सावित्री जिंदल के बाद दूसरी सबसे धनी महिला बन गई है।

इसे भी पढ़ें: एलन मस्क ने बेच डाले Tesla के अरबों के शेयर, दो दिनों में लुढ़के शेयर

एक गुजराती परिवार में जन्मी और पली-बढ़ी फाल्गुनी नायर का पालन-पोषण मुंबई में एक कारोबारी माहौल के बीच हुआ। उनके पिता एक छोटी बियरिंग कंपनी चलाते थे जहाँ उनकी माँ मदद करती थीं। निवेश, शेयर बाजार, व्यापार जैसे शब्द फाल्गुनी ने अपने परिवार से सबसे ज्यादा सुने थे और उनसे अच्छी खासी परिचित थी। 

फाल्गुनी भारतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद चली गईं और अपनी प्रबंधन की डिग्री प्राप्त करने के बाद, उन्होंने एएफ फर्ग्यूसन एंड कंपनी के साथ एक प्रबंधन सलाहकार के रूप में अपना करियर शुरू किया। फाल्गुनी नायर के पति संजय नायर, जिनसे वह बिजनेस स्कूल में मिली थीं, भारत में केकेआर एंड कंपनी के चेयरमैन है। बता दें कि, साल 1993 में, फाल्गुनी कोटक महिंद्रा समूह में शामिल हो गईं और विभिन्न भूमिकाओं में 19 साल तक काम किया फिर 2005 से 2012 तक वह कोटक महिंद्रा की मैनेजिंग डायरेक्टर रही।

साल 2012 में नायका का हुआ जन्म

कोटक महिंद्रा की नौकरी छोड़ नायर ने अपना पूरा समय अपनी उद्यमिता परियोजना पर दिया। बता दें कि, साल 2012 में, नायका ने 60 ऑर्डर के साथ शुरुआत की और कीमतों में कटौती के बारे में कभी नहीं सोचा। नायर ने ब्लूमबर्ग को बताया कि, “हम लिपस्टिक के सही रंग को पूरी कीमत पर बेचना पसंद करते हैं, जबकि गलत शेड को आधी कीमत पर बेचने से खरीदार कुछ ही मिनटों में नाखुश हो जाता है।”

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र राज्य पथ परिवहन निगम के कर्मचारियों की हड़ताल जारी

फाल्गुनी ने नायका की शुरुआत 50 साल की उम्र में बिना किसी अनुभव के साथ शुरू किया।अब, नायका एक पारिवारिक व्यवसाय है, जिसमें फाल्गुनी का बेटा अंचित, कोलंबिया विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन कर रहे  है वहीं सौंदर्य ई-कॉमर्स व्यवसाय चला रहे है, और बेटी अद्वैता, हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से एमबीए के साथ फैशन वर्टिकल की पढ़ाई कर रही है। फोर्ब्स इंडिया रिच लिस्ट के अनुसार, फाल्गुनी नायर अब मुथूट फाइनेंस के मुथूट परिवार, मैरिको के संस्थापक और अध्यक्ष हर्ष मारीवाला, एशियन पेंट्स के अभय वकील से अमीर हैं। 50 साल की उम्र में अपनी यात्रा शुरू करने की बात करते हुए, नायर ने एक मीडिया चैनल से कहा कि,  वह नायिकाओं पर विश्वास नहीं करती और कभी हार न मानने में विश्वास करती है। 

Source link

Leave a Comment