India Vs New Zealand, 1st Test | ‘यह’ बयान आज कप्तान रहाणे का बढ़ा देगा प्रेशर, क्या अबकी बार भी जीतेंगे मैच? उनके बल्ले से निकलेंगे रन, या रहेंगे फिर ‘फुस्स’ | Navabharat (नवभारत)

-विनय कुमार 

आज भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच 2 मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला कानपुर में आरंभ हो रहा है। इससे ठीक पहले भारत के महान स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने एक ऐसा बयान दे दिया है, जिससे पहले मैच की कप्तानी कर रहे मंजे हुए बल्लेबाज और एक सफल कप्तान अंजिक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) का तनाव ज़रूर बढ़ गया होगा।

एक न्यूज़ एजेंसी से अपनी खास बातचीत में भारत के दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने कप्तान अजिंक्य रहाणे को लेकर गंभीर सवाल खड़े किए हैं। हरभजन सिंह ने कहा, “हम तो ये सोच रहे थे कि पता नहीं उन्हें टीम (Test Series India vs New Zealand, 2021) में जगह मिलेगी या नहीं। लेकिन उन्हें कप्तान बना दिया गया है, तो ऐसे में उन्हें अब प्रदर्शन करके दिखाना होगा। नहीं तो, उनके पीछे लंबी लाइन लगी हुई है।”  

यह भी पढ़ें

हरभजन सिंह ने कहा, “टीम का (Team India) इंग्लैंड दौरा (India vs England Bilateral Series, 2021) अच्छा गया था। उसके बाद भारतीय टीम ने टेस्ट मैच काफी दिनों से खेला नहीं है। ऐसे में ये कह सकते हैं कि ये एक नए सीजन की शुरुआत हो रही है। राहुल (KL Rahul) और रोहित (Rohit Sharma) टीम में नहीं हैं। ऐसे में रहाणे (Ajinkya Rahane Captain) को कप्तान बना दिया गया है। हम तो ये सोच रहे थे कि उनको टीम में मौका मिलेगा या नहीं। उनके पिछले 11 मैच बहुत बढ़िया नहीं रहे हैं। उन मैचों में उनकी बल्लेबाजी की औसत 19 की रही है।

उन्होंने आगे कहा, “इस बात में कोई शक नहीं के वे (Ajinkya Rahane) एक अच्छे क्रिकेटर हैं। लेकिन, उनका प्रदर्शन कहीं न कहीं उनका साथ नहीं दे रहा था।” 

हरभजन ने कहा कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma), विराट कोहली (Virat Kohli Captain) और कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid Head Coach Team India) की वजह से उन्हें मौका दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस सीरीज में अजिंक्य रहाणे से बढ़िया प्रदर्शन की उम्मीद है। हमें उम्मीद है। वरना, उनके पीछे नए खिलाड़ियों की बहुत लंबी कतार लगी हुई है। उन्होंने सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) का नाम भी लिया।

गौरतलब है कि अजिंक्य रहाणे की कानपुर टेस्ट मैच की यह उनके करियर की छठे टेस्ट मैच की कप्तानी होगी।  इससे पहले वे 5 टेस्ट मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी कर चुके हैं। टेस्ट क्रिकेट का इतिहास बताता है कि पहली बार उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला (India vs Australia Dharmshala Test Match) में  कप्तानी की थी। उस मुकाबले में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया था। इसके बाद अफगानिस्तान के खिलाफ (India vs Afghanistan Test Match Rahane) दूसरी बार उनको भारत की कप्तानी करने का मौका मिला। उस मैच में भी उनके नेतृत्व में भारतीय टीम ने अफ़गानिस्तान को एक पारी और 262 रनों से हराया था और इतिहास में शानदार जीत दर्ज की थी। इसके बाद 3 टेस्ट मैचों में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे  (India vs Australia Test Series 2018-19 2020-21) में भी उनको भारतीय टीम कप्तानी करने का मौका मिला और उन्होंने इतिहास रच दिया। दोनों ही सीरीज में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसी की ज़मीन पर लगातार धूल चटाई और दूसरी बार लगातार सीरीज जीती। 



Source link

Leave a Comment